How Much Compatible Is Your Partner Know by Numerology

There is saying marriages are made in Haven   .Marriage and partnership is a promise for whole life.  To know whether two people are made for each other  match making  or  kundali milan  is   done …

Source: How Much Compatible Is Your Partner Know by Numerology

Advertisements

How Much Compatible Is Your Partner Know by Numerology

There is saying marriages are made in Haven   .Marriage and partnership is a promise for whole life.  To know whether two people are made for each other  match making  or  kundali milan  is   done . The other way of compatibility check is by Numbers and  Numerology .

 

We all are born on specific day and have date of birth. The Birth date  day is our  personality Numbers .  eg- 15  January so our personality number will be 1+5=6 Our personality number is a unique number which has special vibration and quality.  This unique number will impact us all through our life in every field .

 

How does it help us  

When we do not  have correct time of birth  & yet wants to know about the compatibility with the partner Numerology match works the best .

 

 Personality Number  As per Birth Date :

Number           Birth date

  1.              1, 10, 19 & 28.
  2.              2, 11, 20 & 29.
  3.              3, 12, 21 & 30.
  4.              4, 13, 22 & 31.
  5.              5, 14 & 23.
  6.              6, 15 & 24.
  7.              7, 16 & 25.
  8.              8, 17 & 26.
  9.              9, 18 & 27.

 

 Compatibility With Number 1

Number people are generally  positive, active , progressive  ambitious & egoistic.  They are blessed with high level of tolerance and do no give up easily.

The Numbers has good matching with number 1 people are 2,3,6,7,9

Number 4 and 5 do not get along well and with number with 1 there will be more ego clashes Number   8 may  people will have different  opinion on every matter .

 

Compatibility With Number 2

Native with number 2 is Emotional, Friendly & sensitive. They are perfect in their work. They are not generally robust physically but mentally they are strong.   Their compatabitility  is  good with number 2 , 6 and 9. They get well with number 1,4,and 7 . Difference will be more with number 3 and 8 .   They can end up having quarrels with number 5

 

 

Compatibility With Number 3

 People with number 3 are self respecting , egoistic and never tend to surrender . They love to be independent avoid taking help from others . They are good advisor and teacher attain high post .

Number 3 has good understanding with number  6 and 9 .  good adjustment with number 1 and 5 . The relationship may not be successful with number 2, 4 and 7.  Number 3 and 8 are inimical number .

 

Compatibility With Number : 4,

 Number 4 people generally do not fallow the set  trend  They are arrogant  have suddenness in life  They are social and  but often face  more struggle in life .

4 and 6 is a good combination.  They get well with Number 2,7,8,9 .  Relation do not sustain much  with 3 and 5   Person with Number 1 suffers due to arroagance . .

 

Compatibility With Number : 5,

 Number 5 is easy going but they do not stick to one work . They like change in life .  They are fond of travelling and have good business sense.  Number 5 match well with number 3 .  Native with number 4,6,7,8,9 need to adjust more .  1 , 2 and 5 number can have more nagging between them .

 

Compatibility With Number : 6

People with number 6 have high standard of living. They have interest in art and music  They can be popular socially . They love luxuries in life .  Number 6 gets along well with most of the numbers like  2,3,4,6,9.  Number 1 has to adjust more . 5,6 7  Numbers is not an ideal combination .

 

Compatibility With Number : 7,  

It is difficult to understand number 7 since there is too much hidden in them .  They are visionary and far sighted.They can be serious kind who do not like spending much.

With Number 7 This relationship will function only if one of the partners is ready to adjust permanently to the other.  Number 7 and 9 have good understanding. 1,2,4,6  can have complications . With 3,5,and 8 lot of adjustment is needed .

 

Compatibility With Number : 8,

 These people have lot of struggle in life but they do big things quietly and do not show off much . They are considered strict people and  are focused .   They have sound relation with number 4 and 6 .  Match is neutral with 1,2,5,7,8,9,and 3

 

Compatibility With Number : 9,

These people are brave courageous and commanding. They are obedient and have strict principals.  Their married life is generally satisfied. they get along  well with 2,3,6,7,9 number . Number 1 and 4 need pushing more adjustment .  5 and 8 number relations are always tense .

Written by Nisha Ghai

Famous Indian  AstroPlamist Numerologist

 

वक्री शनि द्वारा भाग्योदय

अजीब लगता है यह सुन कर कि वक्री शनि भी भाग्योदय का कारण बन सकता है। अभी तक तो सभी ज्योतिषीं शनि के नाम से डराते थे? अब अचानक शनि कैसे जीवन में उत्थान दे सकता हैं?

शनि 25 मार्च के सायं 3ः15 मिनट पर वक्री हुआ था। नक्षत्र है ज्येष्ठा और राशि हैं वृष्चिक शनि मार्गी हो रहा है, 12 अगस्त को अनुराधा नक्षत्र और वृष्चिक राशि में?

 

शनि के बारे में आम धारणा।

ग्रह शनि के बारे में आम धारणा है कि शनि ग्रह चाहे तो राजा बना दे या रंक। जिसकी जन्मकुण्डली में शनि बहुत अच्छी स्थिति में होता है उसे शनि विशेष हानि नहीं पहुँचाता बल्कि लाभ ही पहुँचाता है। जिन जातको की कुण्डली में शनि, नीच स्थिति पर होता है, उन्हे शनि से हानि होती है। परन्तु यह हानि जीवन भर नहीं रहती, क्योंकि हमारे जीवन में दशा और गोचर का भी महत्व होता है।

कुण्डली में शुभ शनि के प्रभाव।

उच्च स्थिति में बैठा शनि, अपने घर का या मूल त्रिकोण राशि में बैठा शनि अच्छा माना जाता है। एैसा व्यक्ति भाग्यशाली होता है, स्थिर, गम्भीर बुद्धिमान होता है। जातक की आयु लम्बी होती है। उसकी दार्शनिक प्रवृŸिा होती है व्यक्ति परिश्रमी होता है और धन अर्जित करता है। नौकरी में उच्च पद पर पहुँचता है। हस्तरेखा विज्ञान में भी अच्छी शनि रेखा (भाग्य रेखा) का बहुत महŸव है।

कुण्डली में अशुभ शनि का प्रभाव।

शनि अगर नीेच स्थिति में है तो व्यक्ति शंकालु निराशावादी चापलूस, अलगाव वादी बनता है। पढ़ने में उसका मन नहीं लगता। नाक और सांस सम्बन्धी तकलीफ से ग्रस्त रहता है।

आजकल शनि कहां गोचर कर रहा है?

आजकल शनि वक्री हो कर वृष्चिक राशि में मंगल के साथ गोचर कर रहा है। मेष और सिंह राशि की ढैया और तुला वृष्चिक एवम धनु राशि पर साढ़ेसाती चल रही है।

 

वक्री शनि का प्रभाव।

जिन जातकांे की जन्मकुण्डली में शनि शुभ स्थान पर है या गोचर अच्छा चल रहा है उनके लिये वक्री शनि परेशानी लायेगा। उन्हे पैरों की तकलीफ, कार्यो में रूकावट, जोड़ों का दर्द, नौकरी में परेशानी होगी। धातु, लोहा, बहुमूल्य रत्न, अनाज का व्यापार करने वाले जातकांे के लिये यह समय अस्थिरता का रहेगा।

वक्री शनि किस के लिये शुभ।

जिन जातकों की कुण्डली में शनि अशुभ भाव में स्थित है अथवा गोचर में अशुभ चल रहा है, उनके लिये यह समय शुभ रहेगा। नौकरी में तरक्की की सम्भावना बढ़ेगी, धन का लाभ होगा क्रूड आयल, शेयर बाजार, कोयला स्टील सम्बधी व्यापारियों को फायदा होगा।

शनि के दुष्प्रभाव कम करने के उपाय।

ऽ              शनि के दुष्प्रभाव को कम करने के लिये 7 प्रकार के अनाज व दालों को मिश्रित करके पक्षियों को खिलायें।

ऽ              बैगनी रंग का रूमाल जेब में रखें।

ऽ              शनि मंदिर में शनि की मूर्ति पर तिल या सरसों का तेल चढ़ायंे।

ऽ              सवा पांच रŸाी का नीलम या उपरत्न नीली को ताँबे की अंगूठी में अभिमंत्रित करवा कर पहनें।

ऽ              शनि यंत्र की रोज उपासना करें।

ऽ              फिरोजा रत्न गले में धारण कर सकते हैं।

शनि की साढ़ेसाती के उपाय।

ऽ              शनिवार के दिन काले घोड़े की नाल से उंगूठी बनवायें। उसे तिल के तेल में सात दिन तक रखें। शनि मंत्र को 23000 जाप करंे। शनिवार के दिन सूर्यास्त के समय धारण करें।

ऽ              शनिवार को व्रत रखें। सांयकाल में ही भोजन करें।

ऽ              शनि बीज मंत्र का 23000 जाप सांयकाल को करें, ऊँ प्रां प्री सः श्नैश्चराय नमः, का

ऽ              बेसन या छोले से बने पदार्थ गरीबों को खिलायें।

 

#निशा घई #वक्री शनि, #शनि, ग्रह शनि, #शनि की साढ़ेसाती, #shani #astrologer  #sadasatireport